CA कैसे बने ? जानें CA बनने का पूरा प्रोसेस- How to Become a Chartered Accountant

10+2 कम्पलीट करने के बाद बहुत सारे स्टूडेंट आपस में ये सवाल करते हुए सुने जाते है की आपकी 12वी हो गयी, कितनी परसेंटेज है, अब आगे क्या कर रहे हो, रेगुलर कॉलेज ये नो-रेगुलर कॉलेज, कौन सा कोर्स अच्छा है, कहा से करें, कितना पैसा लगेगा, कितने दिन में होगा, इसमें करियर ऑप्शन क्या है ?

ये जो टाइम होता है ये लाइफ का बहुत ही इम्पोर्टेन्ट और डिसिशन मेकिंग टाइम होता है | यहाँ अगर अपने अच्छा डिसिशन लिया तो पूरी लाइफ टाइम कम्फर्ट जोन में रहेंगे और अगर अपने कोई गलत डिसिशन लिया तो आपकी लाइफ थोड़ी डिस्टर्ब रह सकती है | मैं आपको यही सलाह दूंगा की कोई भी फील्ड चुनने से पहले आप अपनी टैलेंट एंड स्ट्रेंथ के बारे में जान ले ताकि आपको अपनी गोल्स को या करियर को चुनने में हेल्प मिले |

अगर आप टैक्सेशन और अकाउंटिंग जैसे विषयों में दिलचस्पी रखते हैं तो चार्टर्ड अकाउंटेंट (सीए) बनना आपके लिए अच्छा विकल्प हो सकता है। वैसे भारत में सीए बनना तो इतना आसान नहीं है जितना लगता है लेकिन अगर आप ईमानदारी से मन लगाके पढ़ेंगे तो आपको अच्छे CA बनने से कोई नहीं रोक सकता |

मेरे परिवार और दोस्तों में भी कई चार्टर्ड अकाउंटेंट हैं, यहां तक ​​कि मैंने भी बनने की कोशिश की लेकिन सफल नहीं हो सका।

कुछ साल पहले मैं चार्टर्ड अकाउंटेंट की तैयारी कर रहा था, मैंने अपना सर्वश्रेष्ठ शॉट दिया और IPCC  को पास किया और फिर मैंने किसी और कारण से बीच में ही कोर्स छोड़ने का फैसला किया।

हालांकि, परीक्षा की तैयारी के दौरान मैंने कुछ बेहतरीन चीजें सीखीं और मैं इस लेख के माध्यम से अपना अनुभव साझा करना चाहूंगा।

इस लेख में हम आपको बताएँगे की कैसे आप भी CA बन सकते है और उसके लिए क्या करना पड़ेगा |

फिर हम बताएँगे कोर्स विवरण, पाठ्यक्रम, योग्यता, संस्थान, शुल्क, वेतन |

What is CA? एक चार्टर्ड अकाउंटेंट क्या करता है और वे रेगुलर अकाउंटेंट से कैसे अलग हैं?

चार्टर्ड अकाउंटेंसी भारत में सबसे लोकप्रिय कैरियर विकल्पों में से एक रहा है। कंपनी के लाभ से कंपनी को सुचारू रूप से चलाने के लिए चार्टर्ड अकाउंटेंट की आवश्यकता पड़ती है। हर कंपनी को विभिन्न प्रकार के व्यापारिक लेखा-जोखा रखने के साथ ही, प्रोग्रेस के लिए रचनात्मक विचारों की आवश्यकता होती है। ऐसी सभी जिम्मेदारियों को निभाने के लिए चार्टर्ड अकाउंटेंट की जरुरत पड़ती है।

यह पेशा आसान नहीं है, कोई भी चार्टर्ड अकाउंटेंट नहीं बन सकता है; यह एक प्रसिद्ध कॉलेज से एमबीए या स्नातक की डिग्री प्राप्त करने जैसा नहीं है। आप तभी प्रमाणित चार्टर्ड अकाउंटेंट बनेंगे जब आप ICAI या इंस्टिट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया नामक संस्था के सदस्य होंगे। एक प्रमाणित सीए के रूप में आपको वित्तीय प्रणालियों और बजटों के प्रबंधन, वित्तीय ऑडिट करने और वित्तीय सलाह देने जैसे कई काम करने होते हैं।

Chartered Accountant बनने की प्रक्रिया 

चार्टर्ड एकाउंटेंट बनने के लिए, आपको परीक्षणों की एक श्रृंखला को pass करने की आवश्यकता होगी, लेकिन परीक्षाओं के इन सेटों को लेने से पहले, आपको अपना बारहवीं उत्तीर्ण करना होगा।

यह उन परीक्षाओं की सूची है, जिन्हें आपको दिए गए क्रम में क्लियर करना है।

1.     सीए फाउंडेशन कोर्स के लिए पंजीकरण करें। (पहले CPT या कॉमन प्रोफिशिएंसी टेस्ट के रूप में जाना जाता था)

2.     चार महीने के अध्ययन अवधि के बाद फाउंडेशन परीक्षा में दिखाई दें और फाउंडेशन पास करें।

3.     सीए इंटरमीडिएट के लिए रजिस्टर करें। (पहले आईपीसीसी या एकीकृत व्यावसायिक योग्यता पाठ्यक्रम के रूप में जाना जाता था)

4.     आठ महीने के अध्ययन की अवधि के बाद इंटरमीडिएट परीक्षा में दिखाई दें और इंटरमीडिएट के दोनों या एक ग्रुप में पास करें।

5.     प्रैक्टिकल ट्रेनिंग शुरू करने से पहले 4 सप्ताह का ICITSS पूरा करें

6.     तीन साल के प्रैक्टिकल ट्रेनिंग (पीटी) के लिए रजिस्टर करें

7.     इंटरमीडिएट के दोनों ग्रुप पास करने के बाद CA फाइनल कोर्स के लिए रजिस्टर करें

8.     पीटी के अंतिम 2 वर्षों में 4 सप्ताह के Advanced ICITSS को सफलतापूर्वक पूरा करें

9.     पीटी के अंतिम छह महीनों के दौरान और Advanced ICITSS के सफलतापूर्वक पूरा होने के बाद अंतिम परीक्षा में दिखाई दें

10.  प्रैक्टिकल ट्रेनिंग पूरा करे और  फाइनल परीक्षा क्वालिफाई करें

11.  ICAI के सदस्य बनें

1.सीए फाउंडेशन कोर्स के लिए पंजीकरण करें। (पहले CPT या कॉमन प्रोफिशिएंसी टेस्ट के रूप में जाना जाता था)

अगर आप अभी अभी 12वी में प्रवेश किये है तो आपको तुरंत फाउंडेशन कोर्स के तैयारी शुरू कर देना चाहिए. 12वी एग्जाम में दाखला लेने के बाद आपको ICAI की ऑफिसियल वेबसाइट से 31 दिसंबर  एंड 30 जून से पहले रजिस्ट्रेशन करना होगा. ये एक तरह का एंट्री लेवल टेस्ट है जो साल में 2 बार होता है मई/नवंबर महीने में. हलाकि एग्जाम में बैठने की अनुमति आपको 12वी पास होने के बाद ही मिलेगा |

2.चार महीने के अध्ययन अवधि के बाद फाउंडेशन परीक्षा में दिखाई दें और फाउंडेशन पास करें।

जैसे ही आप 12वी पास हो जाये आप फाउंडेशन एग्जाम दे पाएंगे | इस एग्जाम में टोटल 4 पेपर होते है |

  • Paper-1: Principles and Practice of Accounting
  • Paper-2: Business Laws and Business Correspondence and Reporting
  • Paper-3: Business Mathematics and Logical Reasoning & Statistics
  • Paper-4: Business Economics and Business and Commercial Knowledge

हर पेपर 100 मार्क्स का होता है और 3 घंटे का होता है. आपको हर पेपर  में कम से कम 40% मार्क्स लाना होगा और सारे पेपर का टोटल 50% ये उसे अधिक होना चाहिए तभी आप इस एग्जाम को क्लियर कर पाएंगे |

3. सीए इंटरमीडिएट के लिए रजिस्टर करें। (पहले आईपीसीसी या एकीकृत व्यावसायिक योग्यता पाठ्यक्रम के रूप में जाना जाता था)

ये CA बनने का दूसरा चरण है . फाउंडेशन एग्जाम पास करने के बाद आप इसमें रजिस्ट्रेशन ले सकते है. अगर आप ग्रेजुएट है तो आप बिना फाउंडेशन एग्जाम के डायरेक्टली इंटरमीडिएट कोर्स के रजिस्टर करा सकते है. इस कोर्स में भी रजिस्ट्रेशन साल में दो बार होती है |

4.आठ महीने के अध्ययन की अवधि के बाद इंटरमीडिएट परीक्षा में दिखाई दें और इंटरमीडिएट के दोनों या एक ग्रुप में पास करें।

इंटरमीडिएट कोर्स में 2 ग्रुप होते है और प्रत्येक ग्रुप में 4-4 पेपर होते है

  • Paper-1: Accounting
  • Paper-2: Corporate and Other Laws
  • Paper-3: Cost and Management Accounting
  • Paper-4: Taxation
  • Paper-5: Advanced Accounting
  • Paper-6: Auditing and Assurance
  • Paper-7: Enterprise Information Systems & Strategic Management
  • Paper-8: Financial Management & Economics for Finance

हर पेपर 100 मार्क्स का होता है और 3 घंटे का होता है. आपको हर पेपर  में कम से कम 40% मार्क्स लाना होगा और सारे पेपर का टोटल 50% ये उसे अधिक होना चाहिए तभी आप इस एग्जाम को क्लियर कर पाएंगे आप दोनों ग्रुप एक साथ या फिर अलग अलग भी क्लियर कर सकते है |

5. प्रैक्टिकल ट्रेनिंग शुरू करने से पहले 4 सप्ताह का ICITSS पूरा करें

इंटरमीडिएट कोर्स में रजिस्ट्रेशन के बाद स्टेप आता है ICITSS प्रैक्टिकल ट्रेनिंग जो बहुत ही जरुरी है Articleship training स्टार्ट करने से पहले ICITSS ट्रेनिंग कम्पलीट करना बहुत जरुरी है |

6. तीन साल के प्रैक्टिकल ट्रेनिंग (पीटी) के लिए रजिस्टर करें

जैसे ही इंटरमीडिएट कोर्स की पढ़ाई पूरी कर लेते है तो आपको 3 साल की आर्टिकलशिप ट्रेनिंग के लिए CA FIRM में अप्लाई करना होता है जिसके बाद ही आप का फाइनल कोर्स के लिए रजिस्टर कर सकेंगे. आर्टिकलशिप के दौरान कैंडिडेट अनुभवी सीए के अधीन यह सीखता है कि अकाउंटेंसी को कैसे हैंडल किया जाता है।

7. इंटरमीडिएट के दोनों ग्रुप पास करने के बाद CA फाइनल कोर्स के लिए रजिस्टर करें

ये CA बनने का अंतिम चरण है इंटेरेमेडिएट एग्जाम के दोनों ग्रुप पास करने के बाद आप इसमें रजिस्ट्रेशन ले सकते है |

8. पीटी के अंतिम 2 वर्षों में 4 सप्ताह के Advanced ICITSS को सफलतापूर्वक पूरा करें

इंटरमीडिएट कोर्स में रजिस्ट्रेशन के बाद स्टेप आता है Advanced ICITSS प्रक्टिकल ट्रेनिंग जो बहुत ही जरुरी है फाइनल एग्जाम में अपीयर करने के लिए. इससे आर्टिकल शिप ट्रेनिंग के अंतिम 2 साल के दौरान करना पड़ता है |

9. पीटी के अंतिम छह महीनों के दौरान और Advanced ICITSS के सफलतापूर्वक पूरा होने के बाद अंतिम परीक्षा में दिखाई दें

फाइनल कोर्स में भी टोटल 2 ग्रुप होते है और दोनों 4-4 पेपर के होते है

  • Paper-1: Financial Reporting
  • Paper-2: Strategic Financial Management
  • Paper-3: Advanced Auditing and Professional Ethics
  • Paper-4: Corporate and Economic Laws
  • Paper-5: Strategic Cost Management and Performance Evaluation
  • Paper-6A: Risk Management
  • Paper-6B: Financial Services and Capital Markets
  • Paper-6C: International Taxation
  • Paper-6D: Economic Laws
  • Paper-6E: Global Financial Reporting Standards
  • Paper-6F: Multidisciplinary Case Study
  • Paper-7: Direct Tax Laws and International Taxation
  • Paper-8: Indirect Tax Laws

इंटरमीडिएट एग्जाम के जैसे इसमें भी हर पेपर 100 मार्क्स का होता है और 3 घंटे का होता है. आपको हर पेपर  में कम से कम 40% मार्क्स लाना होगा और सारे पेपर का टोटल 50% ये उसे अधिक होना चाहिए तभी आप इस एग्जाम को क्लियर कर पाएंगे |

आप एग्जाम में अपीयर आर्टिकल शिप ट्रेनिंग पूरी करने के बाद या फिर अंतिम 6 महीने में भी कर सकते है आप दोनों ग्रुप एक साथ या फिर अलग अलग भी क्लियर कर सकते है |

10. प्रैक्टिकल ट्रेनिंग पूरा करे और  फाइनल परीक्षा क्वालिफाई करें

अपनी बची हुई ट्रेनिंग को पूरी कर ले अगर कम्पलीट होने से पहले ही एग्जाम दे चुके है तो  और  फाइनल परीक्षा क्वालिफाई करें |

11. ICAI के सदस्य बनें

फाइनल एग्जाम पास होने के बाद आईसीएआई के एक सदस्य के रूप में खुद को “चार्टर्ड एकाउंटेंट” के रूप में नामित करने के लिए नामांकन करें।

Q&A : CA कितने साल का कोर्स है ?

नवीनतम समाचार के अनुसार चार्टर्ड एकाउंटेंट के लिए कोर्स की अवधि अब सिर्फ साढ़े तीन साल है। पहले यह 5 साल और 3 महीने था लेकिन अब आईसीएआई ने कोर्स की अवधि को कम करने का फैसला किया है।यह उन छात्रों के लिए वास्तव में बहुत अच्छा है जो 10 + 2 के बाद पाठ्यक्रम में शामिल होना चाहते हैं।

Q&A :  CA कोर्स फीस कितनी होती है ?

पाठ्यक्रम शुल्क शहर से शहर और संस्थान से संस्थान पर निर्भर करता है। इसलिए हम आपको एक निश्चित राशि नहीं दे सकते हैं, लेकिन हम आपको एक अस्थायी राशि जरूर बता सकते है पूरी कम्पलीट कोर्स के लगभग 60,000-100,000 रूपये लग सकती है |

Q&A :  CA की सैलरी कितनी होती है ?

योग्यता और क्षमता के अनुसार चार्टर्ड अकाउंटेंट का वेतनमान बदलता रहता है। स्टार्टिंग में नई चार्टर्ड अकाउंटेंट को औसत स्तर पर 5 लाख से 7 लाख तक वार्षिक वेतनमान मिल जाता है और अनुभव के साथ ये दो साल में . 10 लाख से ज्यादा भी वार्षिक वेतनमान हो सकता है। वहीँ विदेशी कंपनी में 16 लाख से 22 लाख तक का वार्षिक वेतनमान हो सकता है।

मैं कहूंगा कि यदि आप वास्तव में रुचि रखते हैं तो सीए के लिए जाएं। आपको अकाउंटिंग और ऑडिटिंग पसंद है तो सीए आपके लिए है।अन्यथा आप इसे छोड़ सकते हैं और अन्य काम चुन सकते हैं। सोच समझ कर फैसला कीजिये |

आप चाहे तो स्नातक के बाद भी कोर्स शुरू कर सकते हैं।लेकिन अगर आप CA के बारे में गंभीर हैं, तो अपने स्नातक होने की प्रतीक्षा न करें, 10 + 2 के ठीक बाद ही कोर्स शुरू करें |

Leave a Comment